उत्तराखंड में क्या परमाणु जासूसी डिवाइस के कारण बाढ़ आई? जानिए डिवाइस की कहानी

Total Views : 253
Zoom In Zoom Out Read Later Print

उत्तराखंड में क्या परमाणु जासूसी डिवाइस के कारण बाढ़ आई? जानिए डिवाइस की कहानी

उत्तराखंड में क्या परमाणु जासूसी डिवाइस के कारण बाढ़ आई? जानिए डिवाइस की कहानी

भारतीय हिमालय क्षेत्र के एक गाँव में लोग पीढ़ियों से मानते आ रहे हैं कि ऊंचे पहाड़ों की बर्फ़ और चट्टानों के नीचे परमाणु डिवाइस दबे हैं.


इसलिए जब फ़रवरी की शुरुआत में ग्लेशियर टूटने से रैनी में भीषण बाढ़ आई तो गाँव वालों में अफरातफरी मच गई और अफ़वाहें उड़ने लगीं कि उपकरणों में "विस्फोट" हो गया है, जिसकी वजह से ये बाढ़ आई. जबकि वैज्ञानिकों का मानना है कि हिमालयी राज्य उत्तराखंड में आई बाढ़ की वजह टूटे ग्लेशियर का एक टुकड़ा था. इस घटना में 50 से ज़्यादा लोगों की मौत हो गई.


लेकिन 250 परिवारों वाले रैनी गाँव के लोगों से आप ये कहेंगे तो कई लोग आप पर भरोसा नहीं करेंगे.


रैनी के मुखिया संग्राम सिंह रावत ने मुझे कहा, "हमें लगता है कि डिवाइस की वजह से कुछ हुआ होगा. एक ग्लेशियर ठंड के मौसम में ऐसे कैसे टूट सकता है? हमें लगता है कि सरकार को जाँच करनी चाहिए और डिवाइस को ढूंढना चाहिए."



See More

Latest Photos